Connect with us

लक्ष्य तय करने से कंपनी को मिलता है ग्रोथ

Current Affairs

लक्ष्य तय करने से कंपनी को मिलता है ग्रोथ

 

जीवन में सफल व्यक्ति बनने के लिए सबसे जरुरी होता है अपना लक्ष्य तय करना. आपका लक्ष्य ही आपको जीवन में उन्नति और कामयाबी प्रदान करता है उक्त बात शनिवार 14 जुलाई को क्रेडाई के विशेष सहयोग में छत्तीसगढ़ एसोसिएशन ऑफ़ रियल्टर द्वारा रायपुर के होटल सफायर इन में नोटबंदी के बाद रियल एस्टेट में ग्रोथ विषय पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिष्ठित रियल एस्टेट डेवलपर एवं सेक्रेटरी क्रेडाई व एमडी अविनाश ग्रुप आनंद सिंघानिया ने अपने व्यक्तव्य में कहा.

उन्होंने कहा कि यदि आप अपना लक्ष्य तय कर रोजाना उसका स्मरण करें और तब तक अपनी मेहनत एवं लगन से कार्य करें जब तक उसे हासिल नहीं कर ले तो यक़ीनन सफलता आपके हाथ लगेगी. आयोजित सेमीनार में रियल एस्टेट इंडस्ट्री से जुड़े डेवलपर, रियल एस्टेट कंसल्टेंट ने उपस्थित होकर आने वाले समय में निर्माण सेक्टर के विकास और संभावनाओं पर विस्तार से चर्चा की.

इस आयोजन में प्रमुख वक्ता के रूप में आनंद चोकसी एमडी द रियल एस्टेट कनेक्ट अहमदाबाद, विशिष्ट अतिथि प्रवीन फानसे एलेक्टेड प्रेसिडेंट एनएमएआर थे. विशेष अतिथि अनूप डालमिया चेयरमेन ईस्ट जोन हेड एनएआर, अमित जैन सेक्रेट्री झारखण्ड एसोसिएशन ऑफ़ रियल्टर साथ ही कार्यक्रम में सीजीएआर के प्रेसिडेंट दिलीप सिंग, वाइस प्रेसिडेंट के.एल. साहू, सेक्रेटरी मनीष कुमार, प्रोग्राम चेयरमेन प्रवीन टिकरिहा एवं को- चेयरमेन सुशांत बंसोड उपस्थित थे.

कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वल्लित कर किया गया. चर्चा शुरू करते हुए सबसे पहले प्रवीन फानसे को मंच पर आमंत्रित किया गया. प्रवीन फानसे ने उपस्थित सभी रियल स्टेट ब्रोकर, रियल्टर से आमने-सामने बातचीत करते हुए रियल एस्टेट सेक्टर में टेक्नोलॉजी के माध्यम से अपने व्यापार के विस्तार के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दी. उन्होंने अपनी कंपनी की पॉलिसी के बारे में बताते हुए कहा कि किसी भी काम को शुरू करने से पहले अपना लक्ष्य तय करना जरुरी होता है. अपने लक्ष्य को तय करके उसके अनुरूप अपनी कार्यप्रणाली बनानी चाहिये जिससे उसे प्राप्त करने में आसानी होती है. रोजाना अपने कार्य का आंकलन करना और उसे किस प्रकार बढ़ाया जा सकता है इसके लिए समय के साथ-साथ कार्य करना जरुरी होता है. आज टेक्नोलॉजी बहुत ही हाईटेक हो चुकी है इसके लिए जरुरी है की अपने व्यापर को भी नई टेक्नोलॉजी से कनेक्ट करना जरुरी है.

सोशल मीडिया और इन्टरनेट व्यापार विस्तार में बहुत ही मदद करता है इसके माध्यम से लोगों तक अपनी बात पहुँचाना आसान हो जाता है. आज हमें अपने काम करने के तरीके में बदलाव करने की बहुत जरुरत है अन्यथा आपके व्यापार में विस्तार नहीं होगा. रियल एस्टेट के क्षेत्र में नई संभावनाओं के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में आपका भविष्य बहुत ही उज्जवल है. हर किसी को अपने आशियाने की चाह होती है और आप बायर्स के इस सपने के लिए एक मुख्य माध्यम है. भविष्य में अफोर्डेबल होम्स की संभावनाएं है जिससे घर लेना हर किसी के पहुँच में होगा.

कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए अहमदाबाद से आए मुख्य वक्ता आनंद चोकसी को आमंत्रित किया गया. उन्होंने रियल एस्टेट के क्षेत्र में सेल्स की भूमिका पर विस्तार से चर्चा करते हुए अपने अनुभव साझा किये. आनंद चोकसी ने कहा की किसी को मकान बेचने के बाद आपका काम ख़त्म नहीं होना चाहिए मकान बिक्री के बाद भी अपने ग्राहकों से संपर्क बनाए रखना एवं उनकी सुख-सुविधाओं का ध्यान रखना सबसे महत्वपूर्ण होता है. अपनी साफ़ छवि रखकर ग्राहक हित में कार्य करना चाहिये इसका फायदा आपको भविष्य में मिलेगा. ग्राहक के संतुष्ट होने पर  आपका कार्य सफल होता है. संतुष्ट ग्राहक अपने मित्र, रिश्तेदार, जान-पहचान के हर व्यक्ति से आपकी सिफारिश करता है जिससे आपकी वैल्यू और इमेज बनती है.

अपनी वर्किंग पॉलिसी के बारे में स्लाइड के माध्यम से सघन चर्चा करते हुए उन्होंने सेल्स से जुड़े सभी पहलूओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अपने कस्टमर को बेहतर सर्विस देना हमारी पहली प्राथमिकता होनी चाहिए. हम अपना लक्ष्य तय करते हैं और अपनी टीम के साथ उसे छोटे-छोटे हिस्से में बांट लेते है जिससे काम करना सरल होता है और माइंड में प्रेसर नहीं रहता है. अपना टारगेट सेट करने के बाद पूरी मेहनत से उसे पूरा करने में जुट जाए. सबसे महत्वपूर्ण कस्टमर की चॉइस और जरुरत को समझना होता है.

कार्यक्रम में उपस्थित विशेष अतिथि अनूप डालमिया जी ने वर्तमान में  रेगुलेटरी बिल के संदर्भ में जानकारी देते हुए  बिल के नये कानून के अनुरूप कार्य करने की तकनीक बताई.

सेमिनार के अंतिम चरण में अमित जैन ने नोटबंदी को रियल एस्टेट के क्षेत्र में पॉजिटिव बताते हुए कहा की भविष्य में रियल एस्टेट में नोटबंदी से और भी ज्यादा ग्रोथ होगा. नोटबंदी की वजह से ही बैंकों में होमलोन पर ब्याज दरें कम हुई है जिससे लोगों का रुझान अब प्रॉपर्टी और रियल एस्टेट की और रुझान बढ़ रहा है.

अंत में धन्यवाद ज्ञापन के बाद प्रदेश व अन्य क्षेत्रों से आये गणमान्य अतिथियों को आनंद सिंघानिया द्वारा स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया और राष्ट्रगान उद्बोधन के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया.

Comments

More in Current Affairs

To Top