Connect with us

प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट से पहले फॉलो करें ये स्टेप्स

Property Advice

प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट से पहले फॉलो करें ये स्टेप्स

कम समय में बेस्ट प्रॉफिट के लिए रियल एस्टेट सेक्टर में इन्वेस्टमेंट करना सबसे अच्छा विकल्प है. आज प्रॉपर्टी की बढ़ती कीमतें आपको अन्य इन्वेस्टमेंट की तुलना भविष्य में बेहतर फायदा देता है. नोटबंदी के बाद से प्रॉपर्टी और रियल एस्टेट के दामों में भारी गिरावट इन्वेस्टमेंट के लिए सुनहरा अवसर है.

अच्छे लोकेशन और पौश इलाके में रेजिडेंशियल या कमर्शियल प्रॉपर्टी की भारी डिमांड को देखते हुए इसमें इन्वेस्ट करने की सोच रहें है तो यह आपके लिए बेस्ट चॉइस है. यदि आप भी कोई प्रॉपर्टी खरीदने या इन्वेस्टमेंट करने की सोच रहे हैं तो कुछ स्टेप्स हैं जिन्हें फॉलो करने से आपको अच्छी प्रॉपर्टी खरीदने में मदद मिलेगी.

प्रॉपर्टी के लिए योजना

कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने या रियल एस्टेट सेक्टर में इन्वेस्ट करने से पहले आपको योजना बनाना चाहिये. योजना के तहत प्रॉपर्टी में इन्वेस्ट करने के लिए उसकी अनुमानित लागत, इन्वेस्टमेंट की राशि, प्रॉपर्टी का लोकेशन और होम लोन से जुड़े सभी जानकारियों को जुटाना चाहिए. आपको अपने आवश्यकता अनुरूप मार्केट में रिसर्च करना चाहिये की कितना इवेस्टमेंट सही रहेगा और आपको कम लागत में ज्यादा बेनिफिट मिलेगा.

बजट तय करें

प्रॉपर्टी खरीदने से पहले आपको अपना बजट तय करना जरुरी होगा. बजट के अनुसार आप लोकेशन तय कर सकते हैं और अच्छी रेजिडेंशियल या कमर्शियल प्रॉपर्टी को सलेक्ट कर सकते हैं. बजट तय करने से आपको अपनी चॉइस और जरुरत के अनुसार इन्वेस्ट करने में आसानी होगी लेकिन आपको उससे जुड़े अन्य खर्च जैसे प्रॉपर्टी की कीमत, स्टाम्प ड्यूटी, ब्रोकर की फीस, मेंटेनेस चार्ज के बारे में भी ध्यान रखना होगा वरना आपका बजट बढ़ सकता है. इसके साथ-साथ घर के रेनोवेशन, इंटीरियर और होम डेकोर में लगने वाले खर्च का भी ध्यान रखना होगा.

लोकेशन का चयन

प्रॉपर्टी लेते समय अच्छे लोकेशन की तलाश करनी चाहिये. आज मॉडर्न लाइफस्टाइल के चलते सभी पौश और प्राइम लोकेशन को ज्यादा पसंद करते हैं. रोजमर्रा से जुड़ी जरूरतों के साथ-साथ आपातकालीन सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए जगह का चुनाव करना चाहिये. प्राइम लोकेशन में ख़रीदा गया प्लाट, घर, फ्लैट या अपार्टमेंट बहुत ही फायदेमंद होता है जो आपको कम समय में अच्छा प्रॉफिट दे सकता है. इसलिए स्कूल, शॉपिंग मॉल, हॉस्पिटल, पुलिस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट जैसी सुविधा जहां से नजदीक हो वैसे लोकेशन को प्राथमिकता देकर प्रॉपर्टी खरीदना चाहिए.

प्रॉपर्टी की जांच-पड़ताल

आप जो भी रेजिडेंशियल या कमर्शियल प्रॉपर्टी खरीद रहे हों उसकी पूरी जांच-पड़ताल करने के बाद ही डील करने के लिए संपर्क करें. प्रॉपर्टी से संबंधी स्वामित्व, कागजात और उस पर कानूनी विवाद है या नहीं इसकी पूरी जानकारी हासिल कर लें. अगर आप पुरानी प्रॉपर्टी खरीदने की सोच रहे हैं तो किसी प्रोफेशनल बिल्डिंग इंस्पेक्टर से उसकी जांच करा लें जिससे आपको बिल्डिंग की वास्तविक स्थिति और उसमें रेनोवेशन की पूरी जानकारी मिल जाएगी. पूर्ण रूप से आश्वस्त होने के बाद ही पर्चेज कॉन्ट्रैक्ट पर साईन करें इससे आप अनावश्यक खर्च से बच सकते हैं.

अनुभवी प्रॉपर्टी रियलटर्स का चयन

स्थानीय ब्रोकर की बजाय आपको प्रोफेशनल प्रॉपर्टी मैनेजर या रियलटर्स का चुनाव करना चाहिए. जो आपको प्रॉपर्टी से जुड़ी आधिकारिक और सही जानकारी के साथ-साथ कानूनी प्रक्रिया के बारे में बताते हैं ताकि आपको प्रॉपर्टी खरीदते समय किसी भी प्रकार की कोई धोखाधड़ी और तकलीफ का सामना न करना पड़े. ये आवश्यकता और बजट के अनुसार प्रॉपर्टी खरीदने में आपकी मदद करते हैं. रियल एस्टेट रियलटर्स, नेशनल एसोसिएशन ऑफ रियलटर्स से जुड़े होते हैं और प्रॉपर्टी की ख़रीद-बिक्री करते समय वे एसोसिएशन से जुड़े नियमों को फॉलो करते हैं.

होमलोन की जानकारी 

किसी भी प्रॉपर्टी को खरीदने से पहले आपको होम लोन के बारे में जानकारी लेना जरुरी होता है. अलग-अलग  बैंकों से ब्याज दर,  समयावधि,  टैक्स बेनीफिट्स आदि के बारे में सारी जानकारियां हासिल कर उनकी तुलना करें और सबसे अच्छे विकल्प को चुनें. आजकल बैंक आपने ग्राहकों को लुभाने के लिए आकर्षक और सस्ते ब्याज दर पर लोन, स्पेशल स्कीम जैसे ऑफर देते हैं जिससे टैक्स की बचत भी की जा सकती है और ईएमआई भी कम होगी.

ऑनलाइन सर्च करे

रियल एस्टेट सेक्टर का दायरा आज बहुत ही बढ़ गया है. इन्टरनेट के माध्यम से भी आप प्रॉपर्टी सर्च कर सकते हैं. वेबसाइट्स के माध्यम से आप अपनी मनपसंद प्रॉपर्टी ख़रीद सकते हैं. कई ऑनलाइन रियल एस्टेट ऑक्शन साइट्स हैं जो प्रॉपर्टी की ख़रीद-फरोख़्त करती हैं. इन साइट्स पर लॉग इन करके आप अपने मनपसंद लोकेशन में जाकर सारी आवश्यक जानकारी हासिल कर सकते हैं.

मार्केट कंडीशन

मार्केट में प्रॉपर्टी की कीमत और उसके उतार-चढ़ाव के बारे में अच्छे से रिसर्च करने के लिए उस एरिया के लोकल एजेंट एवं रियल एस्टेट और प्रॉपर्टी से जुड़े सभी लोगों से मिलकर जानकारी एकत्रित करें. इंटरनेट पर भी आप उस प्रॉपर्टी की क़ीमत, औसत किराया और अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. इसके अतिरिक्त नेट पर उनके फ्री कॉन्टैक्ट नंबर भी दिए रहते हैं, जिन पर डायल करके आप उनसे मार्केट और प्रॉपर्टी के बारे में पूछ सकते हैं.

 

Photo Credit- investmentpropertiesinfo.com, media.licdn.com, propertymanagementidaho.net, propertyturkey.com, powernewsnetwork.com, puassets.s3.amazonaws.com, propertyinvestmentexpo.in, peopleschoicecu.com.au, media2.intoday.in

Comments

More in Property Advice

To Top